World Of Written Words.

A RELATIONSHIP WITH THE DIVINE.............



एक रिश्ता पाक सा टूटती साँसें बाँध जाएगा,
हलक से निकलती रूह मेरी,
हर तरफ छूटता दामन,
फिर भी मुझे थाम जाएगा,
एक रिश्ता पाक सा.

बाँधू मन और कहाँ,
ठहर सी गई है ज़िन्दगी मेरी,
चलते चल,
चलते चल,
कोई रूह तो देखेगी मेरी दूर जाती रूह को,
हर रस्ते पर मुझे वो भूल जाएगा ,
यही फितरत तो है इंसा मुफलिसी,
टूटती आँखें,
फिर भी वो मुझे देख जाएगा,
एक रिश्ता पाक सा.

दस रास्ते दस बातें दस इजाज़तें,
और मेरी साँसें,
अनगिनत गिनतियाँ गिनते गिनते,
थक ही जाती है,
फिर चलती है गिरते पड़ते,
शायद होना वजह,
है मेरे पास,
एक रिश्ता पाक सा.

© Shani Ajmera

Shani Ajmera

Shani Ajmera am 11.10.11 02:26

bisher 0 Kommentar(e)     TrackBack-URL